Mananiya Kalyan Singh

21 August, 2021

Jhoola

12 August, 2021

आज श्रावण शुक्ल तृतीया (11.8.21 )से अयोध्या में झूला मेला प्रारम्भ हुआ । मन्दिरों में भगवान को झूला पर, रक्षा बन्धन पर्व तक, झुलाया जायेगा, गीत सुनाये जाएँगे । रामलला के लिये चाँदी का 21 किलो का झूला बनवाया है । आज प्रभु को समर्पित कर दिया । उसी का फ़ोटो संलग्न है ।

View

10 August, 2021

श्रीराम मन्दिर में दर्शन के लिए पधारने वाले श्रद्धालुओं को जन्मस्थान पर चल रहे मंदिर निर्माण कार्य के दर्शन करवाने हेतु अस्थायी मन्दिर मार्ग पर व्यवस्था की गयी है।
A viewing gallery has been opened alongside Shri Ram Janmabhoomi Mandir site, to facilitate devotees to get a glimpse of the ongoing construction activity.

Mirzapur stones are being used for Shri Ram Janmbhoomi Mandir

11 July, 2021

Mirzapur stones are being used for Shri Ram Janmbhoomi Mandir

We are pleased to inform that Mirzapur stones are being used for Shri Ram Janmbhoomi Mandir, Project has started mining & processing on 28th June’21 at Mirzapur district, Uttar Pradesh.
These stones are of size 2’ x 2’ x 4’ are going to be used as a plinth stones. The total quantity is about 19,000 Nos.

मंदिर निर्माण का कार्य

31 May, 2021

मंदिर निर्माण का कार्य 24 घण्टा चल रहा है , 12–12 घंटे की दो शिफ्ट में कार्य हो रहा है, लगभग 1 लाख 20 हजार घन मीटर मलबा निकाला गया है। एक फीट मोटी लेयर बिछाकर रोलर से कौंपैक्ट करने में 4 से 5 दिन लग रहे है। अक्टूबर माह तक काम पूर्ण होने की उम्मीद है । मंदिर निर्माण में लगे सभी मजदूर और इंजीनियर रामलला की विशेष कृपा से स्वस्थ हैं। परकोटा सीधा करने के लिए जितनी जमीन की आवश्यकता थी वह काम हो चुका है। पश्चिम के परकोटे का कोना ठीक होना बाकी है।

चार लेयर एक के ऊपर एक

31 May, 2021

चार लेयर एक के ऊपर एक 400 फीट लम्बाई, 300 फीट चौड़ाई पर डाल दी गई हैं। एक लेयर 12 इंच मोटी बिछा कर रोलर से दबाया जाता है, जब 2 इंच दबकर लेयर 10 इंच हो जाती है, तब दूसरी लेयर बिछाते हैं, 40-45 लेयर डालनी हैं, इसे Roller Compacted Concrete कहेंगे।

The quantity ratio of different materials

31 May, 2021

The quantity ratio of different materials in (engg mixed ) is :-
1)Cement-60 Kg 2)Flyash-90 kg 3)20mm-769 kg
4)10mm-512 kg 5)Stone dust- 854 kg 6)Admixture:.9kg ( a chemical is mixed to increase the settling time of Roller Compacted Cocrete),
7) water-115 kg , ( 2400 kg per cubic meter ) , in this mixture cement is 2.5 % only)

एक घन मीटर क्षेत्र में 2400 किलोग्राम मैटेरियल भरेगा

31 May, 2021

एक घन मीटर क्षेत्र में 2400 किलोग्राम मैटेरियल भरेगा , इसमें सीमेंट मात्र 2.5 % है, विस्तृत विवरण :-
(1. पत्थर गिट्टी 20 मिलीमीटर साइज़- 769 kg
(2. पत्थर गिट्टी 10 मिलीमीटर साइज़—512 kg
(3. पत्थर पाउडर- -854 kg
(4. पत्थर कोयला राख-90 kg ( थर्मल पावर स्टेशन से प्राप्त )
(5. सीमेण्ट -60 kg
(6. पानी – 115 kg

मंदिर निर्माण प्रक्रिया एक कदम और आगे बढ़ गई

17 May, 2021

आज प्रातः श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण प्रक्रिया एक कदम और आगे बढ़ गई, पिछले 5 अगस्त 2020 को माननीय प्रधानमंत्री भारत सरकार श्री नरेंद्र भाई मोदी जी ने अयोध्या पधार कर मंदिर निर्माण की प्रक्रिया को प्रारंभ कर दिया था , इस अवसर पर 9 शिलाओं का पूजन माननीय प्रधानमंत्री जी ने किया था, गर्भ ग्रह में रखे जाने वाली अन्य सभी चांदी की वस्तुओं का पूजन भी किया गया था, स्वयं प्रधानमंत्री जी अपने साथ एक कलश लेकर आए थे , वह सभी वस्तुएं उसी समय से सुरक्षित रखी थी, आज समुद्र तल से 91 मीटर ऊंचाई पर अर्थात जिस धरातल पर बैठकर माननीय प्रधानमंत्री जी ने पूजन किया था उस तल से लगभग 14 मीटर नीचे गर्भ ग्रह के स्थान पर चारों कोनों में शास्त्रीय विधि से 9 शिलाएं स्थापित कर दी गई, साथ ही साथ वास्तु विधि के अनुसार स्थापत्य द्वारा निर्धारित अन्य शिलाएं भी रखी गई, जो अन्य शिलाये रखी गई उनके चित्र आपकी जानकारी के लिए प्रस्तुत है ।

चम्पत राय – 17 मई 2021

17 मई 2021

17 May, 2021

आज प्रातः श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण प्रक्रिया एक कदम और आगे बढ़ गई, पिछले 5 अगस्त 2020 को माननीय प्रधानमंत्री भारत सरकार श्री नरेंद्र भाई मोदी जी ने अयोध्या पधार कर मंदिर निर्माण की प्रक्रिया को प्रारंभ कर दिया था , इस अवसर पर 9 शिलाओं का पूजन माननीय प्रधानमंत्री जी ने किया था, गर्भ ग्रह में रखे जाने वाली अन्य सभी चांदी की वस्तुओं का पूजन भी किया गया था, स्वयं प्रधानमंत्री जी अपने साथ एक कलश लेकर आए थे , वह सभी वस्तुएं उसी समय से सुरक्षित रखी थी, आज समुद्र तल से 91 मीटर ऊंचाई पर अर्थात जिस धरातल पर बैठकर माननीय प्रधानमंत्री जी ने पूजन किया था उस तल से लगभग 14 मीटर नीचे गर्भ ग्रह के स्थान पर चारों कोनों में शास्त्रीय विधि से 9 शिलाएं स्थापित कर दी गई, साथ ही साथ वास्तु विधि के अनुसार स्थापत्य द्वारा निर्धारित अन्य शिलाएं भी रखी गई, जो अन्य शिलाये रखी गई उनके चित्र आपकी जानकारी के लिए प्रस्तुत है ।

चम्पत राय – 17 मई 2021

हरि ॐ रामनवमी के पावन पर्व पर आपको हार्दिक शुभकामनाएँ।

8 April, 2021

हरि ॐ रामनवमी के पावन पर्व पर आपको हार्दिक शुभकामनाएँ। प्रभु श्रीराम आपको सुख, समृद्धि एवं यश प्रदान करें।

अयोध्या में श्री रामजन्मभूमि पर राम जन्मोत्सव की तैयारी- चारों भाइयों का श्रृंगार 21 अप्रैल 2021 बुधवार प्रातः 9 बजे । चारों भाइयों को स्वर्ण मुकुट पहनाये गये।

The Members of Construction Committee

8 April, 2021

हैदराबाद के शरद बाबू ( अनुराधा टिंबर) द्वारा लकड़ी से बनाया श्री रामजन्मभूमि मन्दिर ( 8 फ़ीट लम्बा, 5 फ़ीट चौड़ा व 3 फ़ीट ऊँचा) का माडल परिसर में स्थापित किया गया ।साथ साथ प्रभात मूर्ति कला केन्द्र ग्वालियर से बनकर आयी प्रभु श्री राम 7फ़ीट ऊँची प्रतिमा भी परिसर में स्थापित हुई ।
चम्पत राय रामनवमी बुधवार २१अप्रैल २१

President of India

12 March, 2021

Hon’ble President of India Launched Nidhi Samarpan Abhiyan with his contribution as his “Samarpan”

Prime Minsiter

12 March, 2021

”राम मन्दिर के निर्माण की यह प्रक्रिया, राष्ट्र को जोड़ने का उपक्रम है। यह महोत्सव है-विश्वास को विद्यमान से जोड़ने का, नर को नारायण से जोड़ने का, लोक को आस्था से जोड़ने का, वर्तमान को अतीत से जोड़ने का तथा स्व को संस्कार से जोड़ने का। आज के यह ऐतिहासिक पल युगों-युगों तक, दिग्दिगन्त तक भारत की कीर्ति-पताका फहराते रहेंगे। आज का यह दिन करोड़ों रामभक्तों के संकल्प की सत्यता का प्रमाण है। आज का यह दिन सत्य, अहिंसा, आस्था और बलिदान को न्यायप्रिय भारत की एक अनुपम भेंट है।”
श्री नरेन्द्र मोदी, प्रधानमंत्री, भारत सरकार